बुधवार, 24 सितंबर 2008

मुशीरुल हसन: आतंकवादियों का रहनुमा

देश भर की पुलिस ने आतंकवादियों की धरपकड़ तेज़ कर दी है। इस क्रम में जगह जगह से लोगों मेरा मतलब अल्लाह के नेक बंदों को पकड़ा जा रहा है। दिल्ली में एक तो मुंबई में पाँच सच्चे मुसलमानों को गिरफ़्तार किया गया है। सब के सब पढ़े लिखे हैं। कोई इंजीनियर है तो कोई दार्शनिक, ऐसे में कौन कहता है इस्लाम प्यार और अमन सिखाता है?

जामिया नगर का जामिया विश्वविद्यालय यानी पढ़े लिखे आतंकवादियों का गढ़। ये बात आज साबित भी हो गई जब यहाँ के उपकुलपति मुशीरउल हसन ने पकड़े गए ‘मासूम’ छात्रों को क़ानूनी मदद देने की बात की। क्या बा है! मुझे अपने आप पर और आप पर बड़ी लज्जा आई। ये सोच कर कि हम कैसे लोगों के बीच रह रहे हैं। इस क़ौम के साथ रहना ही परमवीर चक्र जीतने के बराबर है। बस यही एक कसर बाक़ी थी। मुसलमान यानी वो समुदाय जिसका एक धड़ा पहले हम काफ़िरों को मारता है और इनके प्रबुद्ध जन अपनी शिक्षा को हमारे विरुद्ध प्रयोग में लाते हैं।

जामिया का मतलब समुदाय या कुछ लोगों का समूह। अगर चलताऊ भाषा में क जाए तो एक अड्डा.... जी हाँ आतंक का अड्डा और ये सब वहीं तो होगा जहाँ कुरआन शरीफ़ (सचमुच शरीफ़???) को मानने वालों की संख्या अधिक हो। और इन लोगों से हम क्या उम्मीद कर सकते हैं। अनपढ़ रहेंगे तो दंगे करेंगे। पढ़ेंगे तो बम बनाएँगे। इतिहासकार हुए तो हमारे ऐतिहासिक तथ्यों के साथ छेड़छाड़ करेंगे, डॉक्टर हुए तो अतंकियों के मुफ़्त ऑपरेशन करेंगे।

हम हिन्दू आँखें बन्द किए बैठे रहेंगे कभी राम तो कभी कृष्ण की महिमा के बखान करेंगे और ऐसे ही इन गोमाँस खाने वालों की मुसलमानियत के शिकार होते रहेंगे। थोड़ा सोचिए मज़हब की सेवा करने वालों के सामने हम कहाँ टिकते हैं?

3 टिप्‍पणियां:

abeer vajpayee ने कहा…

आप हर बार क्यों कहते हैं कि इसलाम मार काट सिखाता है? कोई सुबूत है?

star ने कहा…

aapke lekh padh kar prateet hota hai ki aapme gyaan ka abhaav hai...shayad aap jaise hi log hote hein jo hindu- muslim dango ki jadh mein hote hain...aatank ke raja musalman hote hain? kya president kalam ne bomb banaye hain? sania mirza par bhi skirt pehnene ke karan fatwa jaari hua tha...kripya apni soch ke daayre ko badhayein...aapko apne hindu hone par garv hai..par mujhe lagta hai ki yadi aap jaanam se muslim hote toh kai dango ke mastermind hote...

yograj sharma ने कहा…

आतंकियों की जड कहां है, कैसे इन्हें रोका जाए... ये चिंता सरकार को भी होनी चाहिए जो अब तक दिखाई नहीं देती... निश्चित तौर पर ये बात आम आदमी के लिए चिंता की बात है